Category

Food & Recipe

Category

Amazing benefits of eating cucumber: Know the right time to eat cucumber, more than 100 diseases will be cured from the body.

ककड़ी खाने के अद्भुत फ़ायदे : जानिए ककड़ी खाने का सही समय, शरीर से दूर होगी 100 से अधिक बीमारियाँ

How To Eat cucumber(ककड़ी कैसे खाए):
ककड़ी खीरे की तरह दिखने वाला एक फूड है। इसे खाने से बहुत सी बीमारियों के ख़त्म किया जा सकता है। यह हमारे शरीर को सेहतमंद बनाती है। लेकिन अधिकतर लोग इसको खाने का सही तरीका व सही समय नहीं जानते हैं।

ककड़ी और खीरा में अंतर-
खीरा एक हेल्दी फूड है लेकिन ककड़ी को इससे कम फायदेमंद समझने की गलती कभी ना करें। हिंदी की तरह अंग्रेजी में खीरा और ककड़ी दोनों के लिए अलग-अलग शब्द नहीं हैं। दोनों को अंग्रेज़ी भाषा में cucumber कहा जाता है। हालांकि ककड़ी में खीरे के मुकाबले पानी की मात्रा कम होती है, लेकिन विटामिन और मिनरल बहुत सारे होते हैं। आइए आज जानते है ककड़ी खाने का सही समय और सही तरीका क्या हैं।

ककड़ी को खाने का सही तरीका-
खीरे की तरह ककड़ी को सलाद बनाकर खाना चाहिए। इसकी स्मूदी भी खाने में बहुत अच्छी होती है। एक्सपर्ट्स की माने तो ककड़ी खाने का सही टाइम भोजन से पहले का होना चाहिए। बिना समय में लगने वाली भूख को कंट्रोल करने के लिए हम इसे खा सकते हैं।

ककड़ी का सेवन करने से शरीर से भागेंगी 100 से ज्यादा बीमारी
ककड़ी में कैलोरी की कमी और पानी की मात्रा ज्यादा होती है। एक शोध के मुताबिक ऐसे फूड खाने से मोटापा कम होता है। इसे बीमारियों का राजा कहा जाता है जो कि 100 से ज्यादा रोगों को जन्म दे सकता है।

जानिए गर्मी में ककड़ी खाने के अद्भुत फायदे-

गर्मी का मौसम शुरू हो चुका है। हर कोई चाहता है कि वह खुद को इस मौसम में गर्मी की मार से बचा कर रखे। यह मौसम ऐसा है इसमें खान-पान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है। गर्मी से बचने के लिए जरुरी है, ज्यादा से ज्यादा पानी और विटामिन से भरपूर चीजों का सेवन करें। गर्मी के मौसम में बहुत से फल और सब्जियां ऐसी हैं जो इस मौसम के लिए व हमारी सेहत के लिए बहुत अच्छी मानी जाती हैं और हमें डिहाइड्रेशन से बचाती हैं। इन्हीं में से एक है, ककड़ी।जो पानी से भरपूर होने के साथ साथ विटामिंस, पोटेशियम और फाइबर का बहुत अच्छा स्रोत है।

कब्ज की समस्या में असरदार –
ककड़ी के नियमित सेवन से कब्ज गैस और अपच जैसे पेट की समस्या से राहत मिलती है। इसमें मौजूद पानी व फाइबर पेट के लिए बहुत ही फ़ायदेमंद साबित होते हैं।

हड्डियों को मजबूत बनाती है –
ककड़ी में विटामिन के पाया जाता है। जो हड्डियों को मजबूत बनाए रखने में मददगार है।

स्किन और बालों के लिए लाभकारी –
ककड़ी गर्मी में बहुत फायदेमंद है। यह केवल हमारी पाचन क्रिया को ही नहीं बल्कि हमारी त्वचा और बालों की ग्रोथ के लिए भी फायदेमंद है। ककड़ी का जूस त्वचा पर दाग धब्बे दूर कर इसे चमकदार बनाने में सहायक है।

किडनी के लिए फायदेमंद –
ककड़ी के पानी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो पोटेशियम के साथ मिलकर यूरिक अम्ल और विषाक्त पदार्थों को शरीर से बाहर निकाल कर किडनी को स्वस्थ रखता है।
इस प्रकार ककड़ी किडनी को स्वस्थ रखने में मददगार है।

ब्लड प्रेशर नियंत्रण में असरदार —
ककड़ी में पाया जाने वाला पोटेशियम ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने सहायक है।

वजन घटाने में मददगार –
हर इंसान चाहता है कि उसका वजन कंट्रोल में रहे। इसमें ककड़ी बहुत लाभकारी है। ककड़ी में बहुत कम मात्रा में कैलोरी होती है और इसमें पाया जाने वाला फाइबर काफी समय तक भूख नहीं लगने देता। इस प्रकार ककड़ी खाने से हम बार बार खाने की समस्या से बचे रहते हैं।

इसके अलावा हम इसे स्नेक्स की तरह भी खा सकते हैं।
इस प्रकार ककड़ी इस गर्मी के मौसम का में पानी और विटामिन का सबसे अच्छा स्त्रोत है। जो हमें बहुत सी बीमारियों से बचाने में सहायक है।

वजन बढ़ने के डर को खत्म करें और लो कैलरी मिठाइयां बनाकर खाएँ

हर किसी को मिठाई बहुत पसंद होती है, लेकिन वजन बढ़ने के डर से बहुत से लोग मिठाई खाने से वंचित रह जाते हैं। आइए आज हम सिखेंगे लो-कैलरी मिठाइयां जिसको आप खुद भी खाएं और परिवार को भी खिलाएं।

1. गाजर हलवा रेसिपी

गाजर के हलवे को बनाने के लिए गाजर और चुकंदर का उपयोग करें। जो भोजन में प्राकृतिक मिठास लाते हैं। इस प्रकार यह कृत्रिम चीनी के उपयोग को कम कर देते हैं। गाजर के हलवे में कम कैलरी युक्त सामग्री का उपयोग करके आप इसका सेवन कर सकते हैं। गाजर आवश्यक विटामिन का एक अच्छा स्रोत है और इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत अच्छे हैं।

आवश्यक सामग्री –

?3 छोटे चम्मच घी
?1/3 कप कम वसा वाला कसा हुआ खोया
?1/4 कप कद्दूकस किया हुआ गाजर
?3/4 कप कद्दूकस किया हुआ चुकंदर
?3/4 कप दूध
?1/3 कप चीनी
?1/4 छोटे चम्मच इलायची पाउडर

बनाने की विधि –

सबसे पहले गहरे पैन या कढ़ाई में एक छोटा चम्मच घी डालकर उसे गर्म करें। उसमें मावा डाल कर 2 से 3 मिनट के लिए मध्यम आंच पर भूनें और अलग रख दें।
अब उसी बर्तन में शेष 2 चम्मच घी और गाजर डालकर मध्यम आंच पर 5-7 मिनट तक भूनें, जब तक यह आधा ना पक जाए। यदि आवश्यकता हो तो थोड़ा पानी डाल सकते हैं।
अब इसमें दूध, चीनी, मावा और इलायची पाउडर को डालकर अच्छी तरह से मिलाएं और 10 से 12 मिनट या पानी सूखने तक पकाएं। अब आप इसे गर्म गर्म परोसें।

2. ओट्स और ड्राई फ्रूट बर्फी

ओट्स और ड्राई फ्रूट से बनी यह बर्फी स्वादिष्ट होने के साथ-साथ एक पौष्टिक और लो कैलरी वाली मिठाई का एक बढ़िया विकल्प है। इसे बनाने के लिए यह विधि अपनाएं।

आवशयक सामग्री-

?1 कप ओट्स
?1/2 कप बारीक कटे मिक्स ड्राई फ्रूट्स
?1/2 कप लो फैट मिल्क
?1/4 कप शहद या ऐपल सिरप
?1/2 छोटा चम्मच इलायची पाउडर
?एक चुटकी केसर (वैकल्पिक)

बनाने की विधि

सबसे पहले ओट्स को पैन या कढ़ाई में हल्का सुनहरा और ख़ुशबूदार होने तक सूखा भून लें।
फिर दूसरे पैन में लो फैट मिल्क को गर्म करें और उसमें शहद, इलायची पाउडर और केसर डालकर मिलाएं।
इसके बाद भुने हुए ओट्स डालें और तब तक मिलाए जब तक कि मिश्रण गाढ़ा ना हो जाए और पैन के किनारे न छोड़ने लगे।
अब इसे आंच से उतार लें और बारीक कटे सूखे मेवे डालकर अच्छी तरह मिला लें।
इस मिश्रण को एक ग्रीस की गई प्लेट में निकाल लें और इसे समान रूप से दबाकर बर्फी बना लें।
कुछ देर इसे ठंडा और सेट होने दें। फिर चकोर टुकड़ों में काट लें।

इस तरह से आप घर पर ही खुद की बनाई लो कैलरी की मिठाइयों का आनंद ले सकते है।