World Day Against Child Labor 2024

बढ़ती जनसंख्या के कारण गरीबी में वृद्धि हो रही है, जिससे बाल मजदूरी बढ़ रही है। छोटे-छोटे बच्चे इसका शिकार बन रहे हैं। जिस उम्र में बच्चों को खिलौनों से खेलना चाहिए, उस उम्र में उन्हें मजदूरी करनी पड़ती है, जिसके कारण उनके विकास पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

World Day Against Child Labor: When and Why is it Celebrated?

(World Day Against Child Labour कब और क्यों मनाया जाता है)

आज बाल मजदूरी एक गंभीर समस्या का रूप ले चुकी है, इसे रोकना अत्यंत आवश्यक है। बाल श्रम के गंभीर मुद्दों पर लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 12 जून को विश्व स्तर पर विश्व बाल श्रम निषेध दिवस मनाया जाता है। हमारे देश के हजारों बच्चे अपने परिवार की परिस्थितियों को सुधारने के लिए कारखानों, फैक्ट्रियों, खेतों आदि में मजदूरी करने को मजबूर होते हैं। इसके कारण उनका मानसिक और शारीरिक विकास रुक जाता है। इसलिए बाल श्रम को रोकने के लिए अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन द्वारा बाल श्रम निषेध दिवस मनाने की शुरुआत की गई।

History and Objective of World Day Against Child Labor

(World Day Against Child Labour Day का इतिहास और इसका उद्देश्य)

World Day Against Child Labour Day की शुरुआत अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन द्वारा सन् 2002 में की गई। तब से हर साल 12 जून को इस दिन को पूरे विश्व स्तर पर मनाया जाता है। बाल श्रम निषेध के विरोध में, संगठन और व्यक्तिगत तौर पर मिलकर, लोगों में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से इस दिन को मनाया जाता है। बाल मजदूरी में फंसने के कारण बच्चों का मानसिक और शारीरिक विकास रुक जाता है। वे अपने परिवार की जरूरतों को पूरा करने के कारण बाल मजदूरी जैसी गंभीर समस्या का शिकार बन जाते हैं। बच्चों को इस गंभीर समस्या से निजात दिलाने के लिए, अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संगठन मिलकर, लोगों में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से इस दिन को मानते हैं। अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन बाल मजदूरी को रोकने के लिए विशेष कार्यक्रमों का आयोजन कर लोगों में जागरूकता फैलाता है।

Theme of World Day Against Child Labour Day 2024

(World Day Against Child Labour Day 2024 का विषय)

हर साल विश्व बाल श्रम निषेध दिवस एक विशेष विषय पर आधारित होता है। इस बार बाल श्रम निषेध दिवस का मुख्य विषय है: “अपनी प्रतिबद्धताओं पर कार्य करें: बाल श्रम समाप्त करें!” अर्थात हमें मिलकर बाल श्रम जैसी समस्या से बच्चों को मुक्त करना है और इसके लिए आगे आकर बढ़-चढ़कर अपना योगदान देना है।

Main Causes of Child Labour

(बाल श्रम के मुख्य कारण)

विश्व में बढ़ती गरीबी और शिक्षा की कमी के कारण बाल श्रम जन्म लेता है। इसके कारण छोटे-छोटे बच्चों को पारिवारिक परिस्थितियों को सुधारने के लिए छोटी उम्र में कारखानों, फैक्ट्री आदि में काम करना पड़ता है। जब तक देश में गरीबी और अशिक्षा रहेगी, तब तक बाल श्रम का अंत होना असंभव है। आईए मिलकर बाल श्रम जैसी समस्या को खत्म करने में अपना योगदान दें और देश से इस समस्या को हमेशा के लिए समाप्त करें ताकि बच्चों का शारीरिक और मानसिक विकास हो सके।

What Can We Contribute to Stop Child Labour

(बाल श्रम को रोकने में हम अपना क्या योगदान दे सकते हैं)

बाल श्रम एक ऐसी समस्या है, जिस पर समय रहते रोक लगाना बहुत जरूरी है। अगर समय रहते इसे नहीं रोका गया तो यह एक गंभीर रूप धारण कर सकती है, जो देश के भविष्य के लिए खतरा है। सबसे पहले जरूरी है कि संगठन गरीबी उन्मूलन अभियान चलाकर देश से गरीबी को किसी हद तक कम करें। दूसरा सबसे जरूरी है आज के समय में शिक्षित होना। अगर इंसान शिक्षित होगा तो वह रोजगार का कोई तरीका खोजकर भुखमरी और गरीबी से निकल सकता है। तो आइए हम खुद भी और दूसरों को भी इस बारे में जागरूक करें और बाल श्रम को रोकने में मदद करें।

Author

Write A Comment